नामकरण मुहूर्त 2021 तिथि और समय | Naming Muhurat 2021 Date and Time

नामकरण मुहूर्त 2021 : हिन्दू शास्त्रा नुसार महत्वपूर्ण १६ संस्कार माने गए है. इसमे से एक नामकरण संस्कार है. आज कल देखा जाए, माँ बाप अपने बच्चोंका नामकरण किसी भी दिन करवाते है. लेकिन हिन्दू शास्त्र और मान्यता नुसार खास तिथि और समय पर होना बहुत जरुरी है. इस का महत्वपूर्ण कारण यह है. की वैदिक ज्योतिष के एक महत्वपूर्ण अंगो के नुसार व्यक्ति के नाम का उसके व्यक्तित्व पर गहरा असर पड़ता है.

नामकरण मुहूर्त 2021 यहाँ देखे

(टिप : अगर कोई समय का घंटा 24 से जादा आता है, तो इसे दूसरे दिन तक गिना जाये यानि गुरुवार, 02 जनवरी 07:14:11 से 31:14:11 तक मतलब दूसरे दिन शुक्रवार सुबह 7:14 तक समय )

दिनांक आरंभ काल समाप्ति काल
नामकरण संस्कार जनवरी 2021 दिनांक और मुहूर्त
शुक्रवार, 01 जनवरी 07:13:55 से 20:15:21
सोमवार, 04 जनवरी 19:17:10 से जनवरी 5, 2021 को 07:14:38 बजे 31:14:38
बुधवार, 06 जनवरी 07:14:57 से जनवरी 7, 2021 को 02:08:44 बजे 26:08:44
शुक्रवार, 08 जनवरी 07:15:10 से 14:13:06
बुधवार, 13 जनवरी 10:31:38 से जनवरी 14, 2021 को 07:15:17 बजे 31:15:17
गुरुवार, 14 जनवरी 07:15:13 से जनवरी 15, 2021 को 05:04:47 बजे 29:04:47
सोमवार, 18 जनवरी 07:43:22 से जनवरी 19, 2021 को 07:14:43 बजे 31:14:43
बुधवार, 20 जनवरी 07:14:18 से जनवरी 21, 2021 को 07:14:19 बजे 31:14:19
गुरुवार, 21 जनवरी 07:14:04 से 15:36:32
रविवार, 24 जनवरी 07:13:10 से जनवरी 25, 2021 को 07:13:10 बजे 31:13:10
सोमवार, 25 जनवरी 07:12:49 से जनवरी 26, 2021 को 01:55:40 बजे 25:55:40
गुरुवार, 28 जनवरी 07:11:37 से जनवरी 29, 2021 को 03:50:37 बजे 27:50:37
नामकरण संस्कार फरवरी 2021 दिनांक और मुहूर्त
सोमवार, 01 फरवरी 18:26:27 से फरवरी 2, 2021 को 07:09:40 बजे 31:09:40
बुधवार, 03 फरवरी 07:08:32 से फरवरी 4, 2021 को 07:08:32 बजे 31:08:32
गुरुवार, 04 फरवरी 07:07:57 से 19:45:40
शुक्रवार, 12 फरवरी 14:23:48 से फरवरी 13, 2021 को 07:02:25 बजे 31:02:25
रविवार, 14 फरवरी 16:33:25 से फरवरी 15, 2021 को 02:01:00 बजे 26:01:00
बुधवार, 17 फरवरी 06:58:20 से 23:49:14
रविवार, 21 फरवरी 15:43:44 से फरवरी 22, 2021 को 06:54:45 बजे 30:54:45
सोमवार, 22 फरवरी 06:53:49 से 10:58:12
बुधवार, 24 फरवरी 13:17:52 से फरवरी 25, 2021 को 06:51:54 बजे 30:51:54
गुरुवार, 25 फरवरी 06:50:55 से 13:17:57
रविवार, 28 फरवरी 09:36:11 से मार्च 1, 2021 को 06:47:56 बजे 30:47:56
नामकरण संस्कार मार्च 2021 दिनांक और मुहूर्त
सोमवार, 01 मार्च 06:46:55 से मार्च 2, 2021 को 06:46:55 बजे 30:46:55
बुधवार, 03 मार्च 06:44:49 से मार्च 4, 2021 को 01:36:21 बजे 25:36:21
गुरुवार, 04 मार्च 23:58:04 से मार्च 5, 2021 को 06:43:46 बजे 30:43:46
शुक्रवार, 05 मार्च 06:42:42 से 22:38:16
सोमवार, 08 मार्च 20:40:40 से मार्च 9, 2021 को 06:39:26 बजे 30:39:26
बुधवार, 10 मार्च 06:37:14 से 21:03:03
रविवार, 14 मार्च 06:32:44 से मार्च 15, 2021 को 06:32:44 बजे 30:32:44
सोमवार, 15 मार्च 06:31:35 से मार्च 16, 2021 को 06:31:36 बजे 30:31:36
शुक्रवार, 19 मार्च 13:44:39 से मार्च 20, 2021 को 06:26:59 बजे 30:26:59
रविवार, 21 मार्च 06:24:41 से 19:24:49
बुधवार, 24 मार्च 06:21:12 से 23:13:07
रविवार, 28 मार्च 06:16:32 से मार्च 29, 2021 को 06:16:32 बजे 30:16:32
सोमवार, 29 मार्च 06:15:24 से मार्च 30, 2021 को 06:15:24 बजे 30:15:24
नामकरण संस्कार अप्रैल 2021 दिनांक और मुहूर्त
गुरुवार, 01 अप्रैल 11:02:16 से अप्रैल 2, 2021 को 06:11:55 बजे 30:11:55
गुरुवार, 08 अप्रैल 06:03:57 से अप्रैल 9, 2021 को 04:57:44 बजे 28:57:44
सोमवार, 12 अप्रैल 08:02:25 से अप्रैल 13, 2021 को 05:59:32 बजे 29:59:32
शुक्रवार, 16 अप्रैल 18:07:38 से अप्रैल 17, 2021 को 05:55:16 बजे 29:55:16
रविवार, 25 अप्रैल 05:46:15 से 16:15:08
सोमवार, 26 अप्रैल 12:46:12 से अप्रैल 27, 2021 को 05:45:20 बजे 29:45:20
बुधवार, 28 अप्रैल 17:13:39 से अप्रैल 29, 2021 को 05:43:30 बजे 29:43:30
गुरुवार, 29 अप्रैल 05:42:35 से 14:30:21
नामकरण संस्कार मई 2021 दिनांक और मुहूर्त
रविवार, 02 मई 08:59:40 से मई 3, 2021 को 05:40:01 बजे 29:40:01
सोमवार, 03 मई 05:39:10 से मई 4, 2021 को 05:39:10 बजे 29:39:10
बुधवार, 05 मई 13:24:03 से मई 6, 2021 को 05:37:35 बजे 29:37:35
गुरुवार, 06 मई 05:36:47 से 10:32:38
शुक्रवार, 07 मई 12:26:37 से मई 8, 2021 को 05:36:01 बजे 29:36:01
रविवार, 09 मई 05:34:34 से 19:32:57
गुरुवार, 13 मई 05:31:52 से मई 14, 2021 को 05:31:52 बजे 29:31:52
शुक्रवार, 14 मई 05:31:14 से मई 15, 2021 को 05:31:14 बजे 29:31:14
सोमवार, 17 मई 13:22:00 से मई 18, 2021 को 05:29:28 बजे 29:29:28
शुक्रवार, 21 मई 15:23:24 से मई 22, 2021 को 05:27:26 बजे 29:27:26
रविवार, 23 मई 05:26:32 से मई 24, 2021 को 05:26:32 बजे 29:26:32
सोमवार, 24 मई 05:26:08 से मई 25, 2021 को 00:13:15 बजे 24:13:15
बुधवार, 26 मई 05:25:23 से मई 27, 2021 को 01:16:10 बजे 25:16:10
रविवार, 30 मई 05:24:07 से मई 31, 2021 को 05:24:07 बजे 29:24:07
सोमवार, 31 मई 05:23:52 से 16:02:01
नामकरण संस्कार जून 2021 दिनांक और मुहूर्त
बुधवार, 02 जून 05:23:25 से 17:00:07
शुक्रवार, 04 जून 05:23:05 से जून 5, 2021 को 05:23:05 बजे 29:23:05
रविवार, 06 जून 05:22:48 से जून 7, 2021 को 02:28:00 बजे 26:28:00
गुरुवार, 10 जून 16:24:10 से जून 11, 2021 को 05:22:34 बजे 29:22:34
शुक्रवार, 11 जून 05:22:34 से 14:30:41
गुरुवार, 17 जून 22:13:52 से जून 18, 2021 को 05:22:57 बजे 29:22:57
शुक्रवार, 18 जून 05:23:06 से 20:41:29
रविवार, 20 जून 05:23:25 से जून 21, 2021 को 05:23:25 बजे 29:23:25
सोमवार, 21 जून 05:23:36 से 16:46:09
रविवार, 27 जून 05:25:09 से 15:56:19
नामकरण संस्कार जुलाई 2021 दिनांक और मुहूर्त
गुरुवार, 01 जुलाई 05:26:31 से जुलाई 2, 2021 को 05:26:31 बजे 29:26:31
शुक्रवार, 02 जुलाई 05:26:52 से 15:31:08
बुधवार, 07 जुलाई 05:28:57 से जुलाई 8, 2021 को 03:23:00 बजे 27:23:00
रविवार, 11 जुलाई 05:30:48 से जुलाई 12, 2021 को 02:22:17 बजे 26:22:17
गुरुवार, 15 जुलाई 05:32:47 से जुलाई 16, 2021 को 05:32:46 बजे 29:32:46
शुक्रवार, 16 जुलाई 05:33:17 से जुलाई 17, 2021 को 05:33:17 बजे 29:33:17
सोमवार, 19 जुलाई 22:27:30 से जुलाई 20, 2021 को 05:34:52 बजे 29:34:52
शुक्रवार, 23 जुलाई 14:26:15 से जुलाई 24, 2021 को 05:37:02 बजे 29:37:02
रविवार, 25 जुलाई 05:38:09 से 11:18:06
सोमवार, 26 जुलाई 10:26:48 से जुलाई 27, 2021 को 02:56:47 बजे 26:56:47
बुधवार, 28 जुलाई 10:45:51 से जुलाई 29, 2021 को 05:39:50 बजे 29:39:50
गुरुवार, 29 जुलाई 05:40:24 से जुलाई 30, 2021 को 05:40:23 बजे 29:40:23
शुक्रवार, 30 जुलाई 05:40:58 से जुलाई 31, 2021 को 05:40:58 बजे 29:40:58
नामकरण संस्कार अगस्त 2021 दिनांक और मुहूर्त
बुधवार, 04 अगस्त 05:43:48 से अगस्त 5, 2021 को 04:25:29 बजे 28:25:29
बुधवार, 11 अगस्त 09:32:27 से 16:56:07
गुरुवार, 12 अगस्त 15:27:01 से अगस्त 13, 2021 को 05:48:15 बजे 29:48:15
शुक्रवार, 13 अगस्त 05:48:49 से अगस्त 14, 2021 को 05:48:49 बजे 29:48:49
गुरुवार, 19 अगस्त 22:42:27 से अगस्त 20, 2021 को 05:52:04 बजे 29:52:04
शुक्रवार, 20 अगस्त 05:52:36 से 20:52:08
रविवार, 22 अगस्त 19:39:54 से अगस्त 23, 2021 को 05:53:39 बजे 29:53:39
सोमवार, 23 अगस्त 05:54:10 से 19:26:27
बुधवार, 25 अगस्त 05:55:13 से 16:21:00
गुरुवार, 26 अगस्त 17:16:26 से अगस्त 27, 2021 को 05:55:43 बजे 29:55:43
शुक्रवार, 27 अगस्त 05:56:15 से अगस्त 28, 2021 को 00:47:57 बजे 24:47:57
सोमवार, 30 अगस्त 06:39:32 से अगस्त 31, 2021 को 02:02:32 बजे 26:02:32
नामकरण संस्कार सितंबर 2021 दिनांक और मुहूर्त
बुधवार, 01 सितंबर 05:58:47 से 12:35:07
शुक्रवार, 03 सितंबर 16:42:12 से सितंबर 4, 2021 को 05:59:46 बजे 29:59:46
बुधवार, 08 सितंबर 06:02:15 से सितंबर 9, 2021 को 06:02:15 बजे 30:02:15
गुरुवार, 09 सितंबर 06:02:45 से सितंबर 10, 2021 को 00:20:20 बजे 24:20:20
रविवार, 12 सितंबर 09:50:41 से सितंबर 13, 2021 को 06:04:13 बजे 30:04:13
गुरुवार, 16 सितंबर 06:06:11 से सितंबर 17, 2021 को 06:06:11 बजे 30:06:11
शुक्रवार, 17 सितंबर 06:06:39 से सितंबर 18, 2021 को 03:36:19 बजे 27:36:19
बुधवार, 22 सितंबर 06:09:07 से सितंबर 23, 2021 को 06:09:07 बजे 30:09:07
गुरुवार, 23 सितंबर 06:09:38 से सितंबर 24, 2021 को 06:09:37 बजे 30:09:37
रविवार, 26 सितंबर 14:33:34 से सितंबर 27, 2021 को 06:11:09 बजे 30:11:09
सोमवार, 27 सितंबर 06:11:39 से सितंबर 28, 2021 को 06:11:39 बजे 30:11:39
नामकरण संस्कार अक्टूबर 2021 दिनांक और मुहूर्त
शुक्रवार, 01 अक्टूबर 06:13:44 से अक्टूबर 2, 2021 को 02:57:55 बजे 26:57:55
बुधवार, 06 अक्टूबर 16:37:19 से अक्टूबर 7, 2021 को 06:16:24 बजे 30:16:24
गुरुवार, 07 अक्टूबर 06:16:56 से अक्टूबर 8, 2021 को 06:16:56 बजे 30:16:56
शुक्रवार, 08 अक्टूबर 06:17:30 से 18:59:55
रविवार, 10 अक्टूबर 06:18:37 से 14:44:31
बुधवार, 13 अक्टूबर 10:19:34 से 20:09:56
गुरुवार, 14 अक्टूबर 18:54:40 से अक्टूबर 15, 2021 को 06:20:57 बजे 30:20:57
सोमवार, 18 अक्टूबर 10:50:13 से 18:09:56
बुधवार, 20 अक्टूबर 06:24:37 से अक्टूबर 21, 2021 को 06:24:37 बजे 30:24:37
गुरुवार, 21 अक्टूबर 06:25:16 से 16:17:46
सोमवार, 25 अक्टूबर 06:27:51 से अक्टूबर 26, 2021 को 04:11:09 बजे 28:11:09
गुरुवार, 28 अक्टूबर 09:41:35 से अक्टूबर 29, 2021 को 06:29:54 बजे 30:29:54
शुक्रवार, 29 अक्टूबर 06:30:35 से 11:38:47
नामकरण संस्कार नवंबर 2021 दिनांक और मुहूर्त
सोमवार, 01 नवंबर 12:53:28 से नवंबर 2, 2021 को 06:32:42 बजे 30:32:42
शुक्रवार, 05 नवंबर नवंबर 6, 2021 को 02:23:52 से नवंबर 6, 2021 को 06:35:38
बुधवार, 10 नवंबर 06:39:23 से नवंबर 11, 2021 को 06:39:23 बजे 30:39:23
गुरुवार, 11 नवंबर 06:40:10 से 14:59:22
रविवार, 14 नवंबर 16:31:59 से नवंबर 15, 2021 को 06:42:30 बजे 30:42:30
सोमवार, 15 नवंबर 06:43:17 से नवंबर 16, 2021 को 06:43:18 बजे 30:43:18
रविवार, 21 नवंबर 06:48:03 से नवंबर 22, 2021 को 06:48:04 बजे 30:48:04
बुधवार, 24 नवंबर 16:29:25 से नवंबर 25, 2021 को 06:50:28 बजे 30:50:28
गुरुवार, 25 नवंबर 06:51:16 से 18:49:34
सोमवार, 29 नवंबर 06:54:25 से नवंबर 30, 2021 को 06:54:25 बजे 30:54:25
नामकरण संस्कार दिसंबर 2021 दिनांक और मुहूर्त
बुधवार, 01 दिसंबर 06:55:59 से दिसंबर 2, 2021 को 06:55:58 बजे 30:55:58
गुरुवार, 02 दिसंबर 06:56:44 से 16:28:20
बुधवार, 08 दिसंबर 07:01:13 से 22:40:04
गुरुवार, 09 दिसंबर 21:51:06 से दिसंबर 10, 2021 को 07:01:55 बजे 31:01:55
शुक्रवार, 10 दिसंबर 07:02:36 से 21:48:36
रविवार, 12 दिसंबर 20:05:19 से दिसंबर 13, 2021 को 07:03:58 बजे 31:03:58
सोमवार, 13 दिसंबर 07:04:38 से दिसंबर 14, 2021 को 07:04:39 बजे 31:04:39
रविवार, 19 दिसंबर 07:08:17 से 16:52:19
बुधवार, 22 दिसंबर 07:09:52 से 16:54:54
रविवार, 26 दिसंबर 07:11:43 से दिसंबर 27, 2021 को 07:11:43 बजे 31:11:43
सोमवार, 27 दिसंबर 07:12:07 से 19:31:33 से
बुधवार, 29 दिसंबर 07:12:50 से दिसंबर 30, 2021 को 02:39:12 बजे 26:39:12
गुरुवार, 30 दिसंबर दिसंबर 31, 2021 को 00:34:34 बजे 24:34:34 दिसंबर 31, 2021 को 07:13:11 बजे 31:13:11
शुक्रवार, 31 दिसंबर 07:13:29 से 22:04:40

शुभ मुहूर्त 2021 के लिए आप यहाँ देख सकते है

नामकरण के लिए कौन से है मुहूर्त

सही समय और तिथि पर शिशु का रखा नाम सफल और लाभदाई सिद्ध होता है. इतर शुभ कार्य में जिस तरह से मुहूर्त का देखना जितना आवश्यक है, उतना ही आवश्यक शिशु का नामकरण करने के लिए जरुरी है. देखते है, इस साल नामकरण के लिए कौन से है मुहूर्त, और क्या है जरुरी.

शिशु का नामकरण करते समय तिथि, नक्षत्र, वार, और मास का विचार

  • शिशु के जन्म से ग्यारवां या बारवा दिन नामकरण संस्कार के लिए अच्छा होता है.
  • नामकरण संस्कार शिशु के जन्म दिन से दस दिन बाद ही करवाना जरुरी है. क्यूंकि यह दस दिन परिवार के लिए सूतक की अवधि बताई जाती है. इस अवधि में कोई शुभ कार्य करना योग्य नहीं माना जाता.
  • शिशु के दस दिन बाद सूतक का शुद्धिकरण यज्ञ सपन्न करवाने के बाद ही नामकरण संस्कार होना चाहिए.
  • अमावस का दिन, चतुर्थी, नवमी और चतुर्दशी के दिन नामकरण संस्कार करना उचित नहीं है.

नामकरण के लिए नक्षत्र, वार, और समय

  • इन शुभ दिन में योग्य मुहूर्त
    • नामकरण संस्कार के लिए सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार जैसे शुभ दिन करना योग्य माना जाता है.
  • इन नक्षत्रों में योग्य मुहूर्त
    • नामकरण संस्कार जब चन्द्रमा अश्वनी, शतभिषा, स्वाति, चित्रा, रेवती, हस्त, पुष्य, रोहिणी, मृगशिरा और अनुराधा, उत्तराषाढ़ा, उत्तराफ़ाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, श्रवण नक्षत्रोंसे गोचर कर रहा हो, आसान भाषा में, ऊपर दिए वार के दिन इन मे से कोई नक्षत्र आये तो. नामकरण के शुभ मन गया है.
  • संस्कार जन्म से एक साल बाद भी
    • परिवार और अपने कुल परंपराओं के अनुसार शिशु का नामकरण संस्कार जन्म से एक साल बाद भी किया जा सकता है.
  • शिशु के दो नाम रखे जाते है
    • हिन्दू शास्त्रा और मान्यता नुसार शिशु के नामकरण संस्कार दरम्यान शिशु के दो नाम रखे जाते है. एक गुप्त नाम और दूसरा प्रचलित.
  • जन्म नक्षत्र के नाम से नामकरण जरुरी
    • शिशु के जन्म नक्षत्र के नाम से उस शिशु का नामकरण करना जरुरी है.

शिशु का नामकरण संस्कार करते समय इन बातोंका रखे ख्याल

  • संस्कार हमेशा पवित्र स्थान पर
    • बालक का नामकरण संस्कार हमेशा पवित्र स्थान पर, घर में, या किसी धार्मिक स्थलोंपर आयोजित किया जा सकता है.
  • जन्म राशि या नक्षत्रा नुसार नाम
    • नामकरण संस्कार के समय बालक का नाम बालक के जन्म राशि या नक्षत्रा नुसार रखना उचित माना जाता है. इससे बच्चे की आयु, बुद्धि पर तीव्र असर पड़ता है.
  • ज्योतिष गाइड पर मुहूर्त देखे
    • नाकरण शुभ मुहूर्त में ही करवाए. इसके लिए आप ज्योतिष गाइड पर मुहूर्त भी देख सकते है.
  • तामसी पदार्थों का भोजन करे
    • नामकरण संस्कार के दौरान मांस, मच्छी, अंडे मदिरा इन तामसी पदार्थों का प्रयोग भोजन में ना करे.
  • गौ माता को रोटी अवश्य दे
    • नामकरण संस्कार के दिन सुबह ८ बजे से पहले अगर संभव है, तो गौ माता को रोटी अवश्य दे.
  • दाढ़ी या बाल कटवाना पूर्णतः वर्जित
    • नामकरण संस्कार के दिन बच्चे के पिताजी को दाढ़ी या बाल कटवाना पूर्णतः वर्जित है. इससे पिता के लिए बच्चे अस्तित्व ख़त्म हो जाता है.
  • घर में आये मेहमानो की मेहमान नवाजी
    • नामकरण संस्कार के दिन घर में आये मेहमानो की मेहमान नवाजी अवश्य करे, उनसे बुरा या दूर व्यवाहर न करे.
  • बड़े बुज़ुर्गोंका आशीर्वाद
    • नामकरण संस्कार के दिन बड़े बुज़ुर्गोंका आशीर्वाद बच्चे को जरूर दिलाये. इससे बच्चे की भविष्य में सफलता और आयु पर प्रभाव पड़ता है.
  • घर के बुज़ुर्गों को शामिल होना आवश्यक
    • बच्चे के नामकरण संस्कार में बच्चे के माता पिता, और घर के बुज़ुर्गोंको शामिल होना अत्यंत आवश्यक है.
  • भूकों को खाना खिलाना आवश्यक
    • नामकरण संकर के दिन गरीब या भूकों को खाना खिलाना बालक की यश प्राप्ति का चिन्ह है.