नाम राशि कॅल्क्युलेटर | जन्म अक्षर से अपने राशि को जाने

अगर जन्म का समय या तिथि की जानकारी न हो. तो नाम राशि कॅल्क्युलेटर का उपयोग किया जाता है. नाम राशि कॅल्क्युलेटर का प्रयोग कर के व्यक्त के भविष्य की ठोक बाते सकते है. आइये जाने है नाम राशि कॅल्क्युलेटर के बारे में विस्तार से.

क्या होती है ज्योतिष राशियाँ ?

वैदिक ज्योतष और खगोल शास्त्र द्वारा आकाश मंडल में अनेक ताराओं के समूह बने हुए है. वैदिक ज्योतिष के अनुसार, इन तारा समूह में अलग अलग आकार और स्वभाव के तारे पाए जाते है. इनके अलग पण से इन समूह की ख़ास विशेषता बनती है. तारा समूहों की यह विशेषताए उनके ख़ास आकार और स्वभाव से जुडी होती है. इन समूह को राशि कहा गया है. आकाश मंडल में करीब बारा राशि है. जिस मे मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन राशि शामिल है.

जन्म राशि से क्या क्या भविष्य जाना जा सकता है ?

भारतीय परंपरा अनुसार शिशु का जन्म होते ही, शिशु के जन्म राशि अक्षर के अनुसार उसका नामकरण किया जाता है. इसलिए हिन्दू परंपरा अनुसार व्यक्ति का नाम उसके राशि से जुड़ा हुआ है. इसका असर व्यक्ति के स्वभाव पर होता है. इसलिए अगर व्यक्ति को जन्म राशि की जानकारी नहीं हो, तो उसके नाम के पहले अक्षर से उसके राशि की जानकारी ली जा सकती है. अगर आप को आपके जन्म समय और तिथि की योग्य जानकारी है. तो नाम राशि कॅल्क्युलेटर द्वारा अपनी राशि स्वभाव, कार्यक्षेत्र, राशि अधिपति इसकी योग्य जानकारी ले सकते है.

वैदिक ज्योतिष में सूर्य से ज्यादा चन्द्रमा को क्यों है इतना महत्व

जातक के जन्म के समय आकाश मंडल में चंद्र जिस राशि में स्थित होता है. वो व्यक्ति या जातक की जन्म राशि होती है. पश्चिमी देशो में सूर्य राशि को अधिक महत्व दिया जाता है. लेकिन वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा को विशेष स्थान दिया गया है. इसका मुख्य कारन चन्द्रमा की आंशिक रूप से बदलने वाली स्थिति होती है. वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा को मन का कारक ग्रह माना गया है. तो सूर्य को आत्मा का कारक ग्रह माना गया है. इसलिए व्यक्ति की मानसिक स्थिति जानने के लिए चंद्र राशि की जानकारी आवश्यक है.

नाम राशि कॅल्क्युलेटर कैसे काम करता है ?

अक्सर, जन्म समय ठीक से जन्म तिथि या जन्म समय का पंजीकरण करना भूल जाते है. ऐसे समय ज्योतिष की आवश्यकता पड़ने पर नाम राशि कॅल्क्युलेटर काम आता है. वैसे इसे सौ प्रतिशत सटीक नहीं माना जायेगा. लेकिन व्यक्ति का क्या नाम होगा, उसे कौनसे नाम से जाना जाएगा. यह कोई नहीं बता सकता.

नाम का व्यक्तित्व पर पड़ता है गहरा असर

अक्सर ऐसा पाया गया है. व्यक्ति का नाम उसके इच्छा से नहीं बल्कि परमात्मा की इच्छा से पड़ता है. अक्सर जन्म के समय व्यक्ति का नाम अलग होता है. और लोग उसे अलग नाम से जानते है. अलग नाम से पहचानते है. और कही न कही इस नाम का उसके व्यक्तित्व पर गहरा असर पड़ता है. क्यूंकि प्रत्येक नाम का अलग अलग स्वभाव होता है. उसकी अलग विशेषताएं होती है. यह सारी विशेषताएं उस व्यक्ति को लागू हो जाती है. इसलिए यह कहना अनुचित नहीं होगा। की नाम राशि कॅल्क्युलेटर अपने हिसाब से विशेष काम करता है.

नाम राशि कॅल्क्युलेटर से क्या क्या जाना जा सकता है ?

नाम राशि कॅल्क्युलेटर से ज्योतिष के माध्यम से व्यक्ति के बारे में पहचाना जा सकता है. जैसे की शनि की साढ़ेसाती. उस राशि से होने वाले ग्रहोंके राशि परिवर्तन से तात्कालिक हानि या लाभ को पहले ही जाना जा सकता है. विवाह के लिए समय का निर्धारण हो सकता है. लेकिन मुहूर्त का नहीं हो सकता. वैसे नाम राशि कॅल्क्युलेटर से जीवन की मोटा मोटी बाते जानी जा सकती है. विस्तार से किसी मुद्दे पर बात करने के लिए, व्यक्ति लग्न कुंडली सहित ग्रहोंकी दशा जानना ज्यादा योग्य होगा.

यह भी अवश्य पढ़े

जाने दैनिक, साप्ताहिक और मासिक राशिफल

नाम के प्रथम अक्षर से जाने अपनी राशि, नाम राशि कॅल्क्युलेटर