Home कुंडली विश्लेषण Sonia Gandhi Kundli analysis in Hindi | सोनिया गांधी कैसे बनी देश...

Sonia Gandhi Kundli analysis in Hindi | सोनिया गांधी कैसे बनी देश की पावरफुल लेडी

39
0
sonia gandhi kundli

Sonia Gandhi Kundli analysis in Hindi आज कई मैनो में महत्वपूर्ण है. सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पत्नी और देश की राजनीती में सबसे ताकदवर महिला के रूप में उनको जाना जाता है. उनके जीवन में बहुत से ऐसे उतार चढ़ाव है. इसलिए उनकी कुंडली का हम परिक्षण करने जा रहे है.

soniya gandhi kundli
Sonia Gandhi Kundli Analysis, Sonia Gandhi horoscope

Birth Date : 9 December 1946,
Birth Time : 09:30 PM, Birth Place : Turin

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) का पूर्व नाम अंतोनिया माइनो (antonia maino) था. उनका जन्म इटली में 9 दिसम्बर 1946 रात के 9 बजकर 30 में हुआ है. राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) और सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) का प्रेम विवाह था. उनका विवाह 25 February 1968 में हुआ. राजीव गांधी के मृत्यु के बाद उनपर गांधी परिवार की और कांग्रेस पार्टी की जिम्मेदारी उनके कंदे पर आ गई. आइये जानते है. उनके कुंडली में ऐसे कौन से ग्रह योग थे जिनके कारण उनकी जिंदगी में इतने चढ़ाव और उतार आ गए.

इसलिए इटली छोड़कर भारत में सेटल हो गई

सोनिया गांधी की कुंडली में कर्क लग्न है. और लग्नेश चंद्र व्यय भाव में मिथुन राशि में विराजमान है. अपना जन्म स्थान इटली छोड़कर भारत में सेटल होना. इसी योग के कारन बना है.

soniya gandhi family horoscope

इसलिए राजीव गांधी के साथ सोनिया गांधी का प्रेम विवाह हो गया

सप्तमेश शनि कर्क लग्न में विराजित है. तथा पंचमेश मंगल की आठवीं दृष्टी लग्न भाव पर और सप्तमेश शनि पर है. इसके साथ चंद्रमा से पांचवा भाव तुला राशि है, वहा राशि के अधिपति शुक्र के साथ चंद्रमा से सातवे भाव के मालिक गुरु युति में बैठे है. इसलिए राजीव गांधी के साथ सोनिया गांधी का प्रेम विवाह हो गया था.

इसलिए राहुल गांधी को, राजनीती में संघर्ष करना पड़ रहा है

सोनिया गांधी की कुंडली में पंचम भाव में सूर्य, बुध और केतु बैठे है. तथा पंचमेश छठे भाव में विराजित है. छठा भाव स्पर्धा का है. इसलिए राहुल गांधी को, राजनीती में बने रहने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ रहा है. साथ ही, पंचम भाव में सूर्य है. पंचम से दशम भाव में सिंह राशि है. सिंह राशि के मलिक पंचम भाव में है.

soniya gandhi and rahul gandhi
एक दिन राहुल गांधी हमेशा के लिए राजनीति को अलविदा कहेंगे

इसलिए राजनीति राहुल गांधी को विरासत में मिली है. लेकिन साथ ही सूर्य के साथ केतु और पंचम से आठवीं राशि मिथुन है. उसके मालिक बुध पंचम भाव में है. आठवा भाव अशुभ माना जाता है. साथ ही बदलाव दिखाता है. और केतु विच्छेद करता है. और इंसान की उस विषय रूचि भी कम करता है. इसलिए राहुल गांधी एक राजनेता तो है. लेकिन उन्हें राजनीति में अपना स्थान बनाये रखने में काफी मुश्किलें आ रही है. पंचम भाव के केतु के कारण, एक दिन आएगा राहुल गांधी हमेशा के लिए राजनीती को अलविदा कहेंगे.

इसलिए राजिव गांधी बॉम्ब विस्फोट में मृत्यु हो गई

सोनिया गांधी की लग्न कुंडली में सप्तमेश से अष्टम भाव का मालिक सूर्य पंचम भाव में है. सूर्य राहु और केतु की छाया में है. सप्तम भाव से षष्ठेश मिथुन राशि का मालिक बुध सूर्य के साथ है. इस कारण सोनिया गांधी के पति तथा पूर्व प्रधानमंत्री राजिव गांधी बॉम्ब विस्फोट में मृत्यु हो गई.

soniya gandhi and family
इसलिए सोनिया गांधी को कैंसर जैसी बीमारी ने घेर लिया

सोनिया गांधी के कुंडली में षष्ठेश गुरु है तथा गुरु के लग्नेश पर पूर्ण दृष्टी है. सोनिया गांधी को कैंसर जैसी बीमारी ने घेर लिया है. लेकिन जब षष्ट स्थान से गुरु का संबंध बनता है. तो ऐसी परिस्थि में उपाय भी मिल जाता है. ऐसे स्थिति में सोनिया गांधी को इस बिमारी पर अच्छी ट्रीटमेंट मिल पाई है. और बीमारी पर पूर्ण नियंत्रण पा लिया है.

https://www.youtube.com/watch?v=olYNAiCm2ik

हम कामना करते है. सोनिया गांधी जी की सेहत ऐसी ही अच्छी बानी रहे. आपको हमारा Kundli Analysis कैसे लगता है. हमें कमेंट कर के जरूर बताये. तथा आप भी हमें celebrity kundli analysis के लिए सुझाव दे सकते है. आपके सुझाव का स्वागत किया जाएगा.

यह लेख भी जरूर पढ़े –

Sachin Tendulkar Kundli इन योगो ने बनाया सबसे धनि और सफल क्रिकेटर

Amitabh Bachchan Kundli जीवन की महत्वपूर्ण घटनाएँ और कुंडली विश्लेषण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here