May 12, 2021
नौ ग्रहों में शुक्र का स्थान मानवी जीवन में अत्यंत महत्वपूर्ण माना गया है. शुक्र द्वारा बने ज्योतिष योग क्या क्या है, यह इस विषय में देखेंगे मानवी जीवन में मनोरंजन का दुसरा नाम शुक्र... Read »
May 19, 2019
राहु और केतु इन दोनों आकाश में विरुद्ध दिशा के दो अदृश्य बिंदु कहे जाते है. लेकिन ज्योतिष में इन दोनों बिंदुओं को ग्रहों का दर्जा दिया गया है. राहु और केतु को मिलाकर ज्योतिष... Read »
January 28, 2019
बुध नौ ग्रहों मे युवराज है. बुध को बुद्धि का दाता भी कहा जाता है, मिथुन और कन्या राशि, बुध की स्वयं की राशि है, इसके साथ ही बुध अपनी स्वयं की कन्या राशि में... Read »
January 28, 2019
गुरु यानि बृहस्पति का नौ ग्रहों में गुरु का स्थान है, इसलिए इस ग्रह को गुरु भी कहा जाता है. ब्रम्हांड में घटने वाली सभी शुभ घटनाओं का गुरु को कारका कहा जाता है. गुरु... Read »
January 22, 2019
मंगल ग्रह का स्थान नौ ग्रहों में सेनापति का है, आज मंगल ग्रह के साथ साथ मांगलिक दोष (Manglik Dosh) क्या है, यह भी जानेंगे, मांगलिक (Manglik) दोष होना यह कोई खराबी नहीं है, सिक्केका... Read »
January 21, 2019
शनि देव का स्थान नवग्रहों में न्यायाधीश या दंडाधिकारी का माना जाता है. सौर मंडल में शनि देव के होने से ही पृथ्वी पर पाप और पुण्य का समतोल बन पाया है, शनि देव की... Read »
January 15, 2019
सूर्य को नौ ग्रहो में प्रथम स्थान एवं ग्रहों मे सूर्य को राजा भी कहा जाता है, वो पुरे ग्रह मंडल में प्रमुख है. संसार के सारे ग्रह या तारों को सूर्य से ऊर्जा एवं... Read »
January 8, 2019
चंद्रमा का स्थान नौ ग्रहों में सूर्य के बाद आता है, इसलिए चंद्रमा मनुष्य जीवन पर सबसे ज्यादा प्रभाव करनेवाला ग्रह माना जाता है. नौ ग्रहों की तुलना में चन्द्रमा की गति, सबसे अधिक होने... Read »